Site Overlay

Introduction of Share Market – Hindi

नमस्कार दोस्तों,
     आज हम इस ब्लॉग के जरिये शेयर मार्किट (Share Market or Stock Market) के बारे में कुछ जरुरी जानकारी  प्राप्त करेंगे और साथ ही में इससे जुड़े कुछ मुद्दों पर भी बात करेंगे।

  1. शेयर मार्किट क्या होता है ?
  2. शेयर मार्किट कैसे काम करता है ?
  3. क्या शेयर मार्किट से हम रातो-रात ढेर सारा पैसा कमा सकते है ?
  4. शेयर मार्किट में इन्वेस्ट कैसे करे ?
  5. शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करने से पहले किन-किन बातो का ख्याल रखना जरुरी है ?

ऐसे सभी सवालों का जवाब आपको इस ब्लॉग से मिल जायेगा, इसीलिए दोस्तों पोस्ट को अंत तक पूरा पढ़े ।

शेयर मार्किट अथवा स्टॉक मार्किट

  •   जैसा की आप सभी जानते ही होंगे “शेयर मार्किट” शब्द में “शेयर” शब्द का मतलब हिस्सा या भागीदारी होता है और “मार्किट” शब्द का अर्थ बाजार होता है । शेयर मार्किट ये एक ऐसी जगह है जहा हम स्टॉक एक्सचेंज में नामांकित कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी खरीद अथवा बेच सकते है और उन कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी खरीद अथवा बेच कर मुनाफा कमा सकते है।

  •      इसे और स्पष्ट करने के लिए हम एक उदाहरण देखते है – मान लीजिये कोई “X” कंपनी को अपने बिज़नेस की शुरुआत करने अथवा बिज़नेस को बड़ा करने के लिए बहुत से पैसे को जरुरत है और फ़िलहाल इस कंपनी के पास इतने पैसे नहीं है की जिससे यह कार्य पूरा हो सके, तब ऐसे में ये कंपनी स्टॉक एक्सचेंज से संपर्क करती है और स्टॉक एक्सचेंज इस कंपनी से जरुरी दस्तावेज लेकर “X” कंपनी का IPO सामान्य लोगो के लिए प्रस्तुत करती है और इस प्रकार से सामान्य लोग अपना पैसा लगाकर उस कंपनी का आईपीओ खरीदते है अथवा दूसरे शब्दों में कहे तो वे लोग उस कंपनी में अपनी पूंजी निवेश करते है, निश्चित समय के बाद सभी निवेशकों में से चुनिंदा लोगो को यह कंपनी के शेयर प्राप्त होते है, अब यदि यह कंपनी अपने व्यापर में मुनाफा करती है तो उस कंपनी के शेयर-मालिक को भी उसके निवेश के मुताबिक मुनाफा मिलता है, और इसी प्रकार से यदि व्यापर में नुकसान हो तो निवेशक को भी नुकसानी का सामना करना पड़ता है।

शेयर मार्किट कैसे काम करता है ?

  • दोस्तों , शेयर मार्किट में हर एक कंपनी का उसके व्यापर और निवेशकों के लिए उनके शेयर की एक निश्चित रकम(Share Price) होती है जो शेयर मार्किट के खुलने से लेकर बंद होने तक लगातार घटती अथवा बढ़ती रहती है। यदि कोई कंपनी व्यापर में मुनाफा करती हे तो उसके शेयर की कीमत बढ़ती है और अगर कंपनी अपने व्यापर में नुकसान करती है तो उसके शेयर की कीमत भी घटती है, इसके अलावा अगर किसी कंपनी के निवेशक लगातार शेयर की विक्री करते है तो भी उसके शेयर की कीमत उसके साथ साथ घटने लगती है और ऐसे ही यदि कोई कंपनी के शेयर लगातार ख़रीदे जा रहे हो तो उस कंपनी के शेयर की कीमत में भी बढ़ोत्तरी देखने मिलती है।

क्या शेयर मार्किट से हम रातो-रात ढेर सारा पैसा कमा सकते है ?

  •    अब हम इतना तो जान चुके है की किसी कंपनी के शेयर की कीमत किन कारणों से घटती अथवा बढ़ती है परन्तु इसका मतलब यह नहीं है की शेयर मार्किट में पैसे कमाना इतना आसान है, शेयर मार्किट में कंपनी की न्यूज़ अथवा घोषणा से भी उसके निवेशकों में शेयर बेचने अथवा खरीदने की उत्तेजना बढ़ती है और इससे भी शेयर की कीमत में बदलाव होता है, अगर किसी निवेशक ने बिना जानकारी के किसी कंपनी में निवेश किया और अगर उसके शेयर की कीमत बढ़ती है तो अच्छा है, परन्तु अगर उसके शेयर की कीमत घटती है तो उस निवेशक को नुकसान झेलना पड़ सकता है , इसीलिए किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले उस कंपनी के बारे में जानकारी रखना उतना ही जरुरी है जितना किसी और जगह निवेश करने से पहले जानना आवश्यक होता है, शेयर मार्किट में पैसे कमाने के लिए निवेशक को धैर्य के साथ ही साथ सही समय पर सही कंपनी के शेयर खरीदने अथवा बेचने होंगे जिससे की निवेशक को ज्यादा से ज्यादा मुनाफा प्राप्त हो अर्थात सक्षिप्त में कहा जाए तो अगर कोई शेयर मार्किट के जरिये रातोरात अमीर बनना चाहता हो तो वह मुमकिन नहीं है, ऐसे हालातो में ज्यादात्तर नुकसानी ही होती है।

शेयर मार्किट में इन्वेस्ट कैसे करे ?

  •     कोई भी निवेशक सीधे ही स्टॉक एक्सचेंज से किसी कंपनी के शेयर खरीद अथवा बेच नहीं सकता, वह SEBI (Securities and Exchange Board of India) से निर्धारित किसी भी BROKERAGE FIRM में अपना DEMAT और TRADE अकाउंट खुलवा कर ही शेयर की खरीदी अथवा विक्री कर सकता है, निवेशक को DEMAT और TRADE अकाउंट खुलवाने के लिए  कुछ जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है, जिनमे पैन कार्ड, आधार कार्ड, बैंक अकाउंट की डिटेल्स अथवा स्टेटमेंट, इ-मेल और मोबाइल नंबर यह मुख्य है, अब सवाल आता है की यह अकाउंट किन जगह पर खोला जाता है तो साधारणतः मार्केट में मुख्य दो प्रकार के Brokerage firm होते है।
  1.  Full Service Broker
  2.  Discount Broker
  •    Full Service Broker यह Discount Broker की सेवाओं की तुलना में ज्यादा सेवाए प्रदान करते है, जैसे की निवेशक को निवेश करने की सलाह, टिप्स एंड ट्रिक्स, मदद हेतु निजी कर्मचारी प्रदान करना और भी इन जैसी अतिरिक्त सेवाए इनमे शामिल है, इसीलिए इनके शुल्क Discount Broker से कई गुना ज्यादा होते है, अगर आप शेयर मार्किट में नए हो तो आपको Discount Broker से ही ट्रेड करना चाहिए, क्योकि इनके Brokerage charges यह  Full Service Broker की तुलना से  कई गुना कम और इसमें कोई अतिरिक्त शुल्क भी नहीं होता, मतलब Discount Broker यह सबसे ज्यादा सस्ते और फायदेमंद होते है। वैसे तो भारत में बहोत से ब्रोकरेज फर्म कम्पनिया है, परन्तु सबसे सस्ती और कम दाम में सबसे अच्छी सेवाए प्रदान करने वाली फर्म में से एक फर्म Upstox और Zerodha है जो आपको लगभग सभी प्रकार की ट्रेड करने की सुविधा प्रदान करता है और यह दुसरो की तुलना में सबसे ज्यादा सरल और फायदेमंद भी है। साथ ही साथ बड़ी आसानी से आप अपने मोबाइल से भी शेयर खरीद अथवा बेच सकते है, आपकी सहायता के लिए मैंने नीचे एक लिंक दी है, जिससे की आप आसानी से इस फर्म के साथ अपना अकाउंट खोल सकते है।

दोस्तों , अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे, अगर आप इससे संबंधित अन्य कोई जानकारी जानना चाहते हो तो प्लीज कमेँन्ट लिखे । अगले ब्लॉग में DEMAT और TRADE अकाउंट online कैसे खोलते है उसके बारे में समझेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *